Sunday, May 22, 2022
No menu items!
More
    Homeलाइफस्टाइलज्यादातर लोग धोखेबाज पार्टनर को दूसरा मौका देने में यकीन रखते हैं

    ज्यादातर लोग धोखेबाज पार्टनर को दूसरा मौका देने में यकीन रखते हैं

    डेटिंग और पार्टनर के बारे में लोगों की पसंद अलग-अलग होती है। इस प्रवृत्ति को जानने के लिए, एक्स्ट्रा मैरिटल डेटिंग ऐप ग्लीडेन ने हाल ही में भारतीयों पर एक सर्वेक्षण किया। रिपोर्ट के अनुसार, डेटिंग ऐप ने यह सर्वेक्षण अपने 1,000 उपयोगकर्ताओं पर किया है जिनकी आयु 34-49 वर्ष है। मुंबई, दिल्ली, एनसीआर, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे और हैदराबाद के लोग इस सर्वेक्षण में शामिल हुए।

    क्या कहता है सर्वर्

    सर्वेक्षण की रिपोर्ट के अनुसार, ’36 .9 प्रतिशत लोग ठगे जाने के बावजूद अपने सहयोगियों को बिना शर्त माफ करने को तैयार थे, जबकि 40.1 प्रतिशत ने कहा कि उनका भविष्य धोखा देने के कारण पर निर्भर करता है। वहीं, लगभग 23 प्रतिशत उपयोगकर्ताओं ने धोखा देने के बाद रिश्ते से बाहर निकलने की इच्छा व्यक्त की।

    रिपोर्ट में कहा गया है कि आजकल लोग अपने रिश्ते और जीवन को लेकर पहले से ज्यादा व्यावहारिक हो गए हैं। लोग उस रिश्ते को खत्म करने के बजाय दूसरे रिश्ते में खुशियां तलाशने की कोशिश कर रहे हैं, भले ही पार्टनर के साथ रिश्ता संभव न हो। सर्वेक्षण में लगभग 48.1 प्रतिशत लोगों ने माना कि वे एक ही समय में दो अलग-अलग लोगों से प्यार कर सकते हैं, जबकि 44.5 प्रतिशत लोग इसके खिलाफ थे।

    डेटिंग और पार्टनर के बारे में लोगों की पसंद अलग-अलग होती है। इस प्रवृत्ति को जानने के लिए, एक्स्ट्रा मैरिटल डेटिंग ऐप ग्लीडेन ने हाल ही में भारतीयों पर एक सर्वेक्षण किया। रिपोर्ट के अनुसार, डेटिंग ऐप ने यह सर्वेक्षण अपने 1,000 उपयोगकर्ताओं पर किया है जिनकी आयु 34-49 वर्ष है। मुंबई, दिल्ली, एनसीआर, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे और हैदराबाद के लोग इस सर्वेक्षण में शामिल हुए।

    क्या कहता है सर्वे?

    र्वेक्षण में शामिल 72 फीसदी लोगों ने कोविद -19 प्रतिबंध हटने के बाद अपनी ऑनलाइन तारीख को पूरा करने की इच्छा व्यक्त की है। सर्वेक्षण में कई लोगों ने बेवफाई को अपराध माना। उन्होंने कहा कि धोखेबाज साथी को माफ नहीं किया जा सकता है, जबकि सर्वेक्षण में कई लोग थे जो ठगे जाने के बावजूद साथी को दूसरा मौका देने के लिए तैयार थे।

    सर्वेक्षण की रिपोर्ट के अनुसार, ’36 .9 प्रतिशत लोग धोखा दिए जाने के बावजूद अपने सहयोगियों को बिना शर्त माफ करने को तैयार थे, जबकि 40.1 प्रतिशत ने कहा कि उनका भविष्य धोखा देने के कारण पर निर्भर करता है। वहीं, लगभग 23 प्रतिशत उपयोगकर्ताओं ने धोखा देने के बाद रिश्ते से बाहर निकलने की इच्छा व्यक्त की।

    रिपोर्ट में कहा गया है कि आजकल लोग अपने रिश्ते और जीवन को लेकर पहले से ज्यादा व्यावहारिक हो गए हैं। लोग उस रिश्ते को खत्म करने के बजाय दूसरे रिश्ते में खुशियां तलाशने की कोशिश कर रहे हैं, भले ही पार्टनर के साथ रिश्ता संभव न हो। सर्वेक्षण में लगभग 48.1 प्रतिशत लोगों ने माना कि वे एक ही समय में दो अलग-अलग लोगों से प्यार कर सकते हैं, जबकि 44.5 प्रतिशत लोग इसके खिलाफ थे।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments